Gratuity क्या हैं इसके नियम क्या है, आप कब Gratuity हक़दार बनते हो, जानें सबकुछ

Gratuity क्या हैं इसके नियम क्या है, आप कब Gratuity हक़दार बनते हो, जानें सबकुछ

प्रावेट नौकरीपेशा लोग अक्सर ग्रेच्युटी को लेकर असमंजस की स्थिति में रहते हैं। ग्रेच्युटी क्या होती है कर्मचारी को इसका लाभ कब मिलता है? ग्रेच्युटी कि गणना कैसे की जाती है? इसी तरह के सवाल कर्मचारी के मन में उठाते रहते हैं। ग्रेच्युटी सैलरी का वह हिस्सा होता है जो एम्प्लॉयर आपकी सालों की सेवाओं के बदले देता है। like and, but, so and because

ग्रेच्युटी का हक़दार होने के लिए कर्मचारी को किसी कंपनी में लगातार पांच साल काम करना जरुरी है। अगर 10 से ज्यादा कर्मचारी वाली कोई कंपनी है तो वह अपने कर्मचारी को ग्रेच्युटी का भुगतान कराती है। यह कर्मचारी का हक होता है। पेमेंट ऑफ ग्रेच्युटी एक्ट, 1972 के सेक्शन 4 (1) के मुताबिक कोई भी एंप्लॉयी लगातार 5 साल तक की जॉब के बाद ग्रेच्युटी का हकदार होता है। like and, but, so and because

वहीं ऐसे व्यक्ति जो जल्दी जल्दी (हर एक दो साल में) नौकरी बदलते हैं वह कभी ग्रेच्युटी का लाभ नहीं उठा सकेंगे। हालांकि यदि आपने एक ही कंपनी में लगातार 5 साल पूरे कर लिए हों तो फिर भले ही आप अगले ही दिन नौकरी बदल लें, तब भी आप ग्रेच्युटी की पूरी रकम के हकदार होंगे। like and, but, so and because

ऐसे किया जाता है कैल्कुलेट: कर्मचारी को 5 साल नौकरी करने के बाद अपनी सेवा में पूरे किए गए हर साल के बदले आखिरी माह के बेसिक सैलरी और महंगाई भत्ते (डीए) को जोड़कर उसे पहले 15 से गुणा करना होता है। इसके बाद जो रकम आती है उसे 26 से भाग दे दिया जाता है। भाग देने के बाद जो रकम हासिल होती है वह ग्रेच्युटी कहलाती है।

vepnews

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *