छवि मित्तल ने उन ट्रोलर्स की खिंचाई की जिन्होंने बिकनी तस्वीरों पर उनके स्तन कैंसर के बारे में टिप्पणी की थी ट्रोलिंग को लेकर हुई परेशान छवि मित्तल बोलीं

Entertainment

छवि मित्तल ट्रोल्स पर: टीवी एक्ट्रेस इमेज मित्तल (छवि मित्त) अपने स्तन कैंसर को लेकर मुखर रही हैं। उन्होंने हर एक पल को फैंस के साथ शेयर किया और महिलाओं को जागरुक भी किया। हालांकि, अक्सर उन्हें ट्रोल भी किया जाता है। हाल ही में एक्ट्रेस को बिकिनी फोटोज के कारण ट्रोलिंग का सामना करना पड़ा। अब उन्होंने ट्रोलर्स को करारा जवाब दिया है।

छवि मित्तल ने ट्रोलिंग का जवाब दिया

छवि मित्तल ने अकाउंट अकाउंट पर एक उपयोगकर्ता का दावा किया है, जिसमें लिखा है “ब्रेस्ट कैंसर में ब्रेस्ट कट नहीं लगाए हैं?” इस टिप्पणी का जवाब देते हुए छवि ने लिखा, हां। यह संवेदनहीनता अब भी होती है। मैंने हाल ही में एक समुद्री बीच से वेकेशन की कुछ तस्वीरें/रील्स पोस्ट की थीं और इस कमेंट ने मुझे ध्यान खींच लिया। मेरा ब्रेस्ट की चर्चा यहां एक सामान की तरह जा रही है। मैं एक स्तन कैंसर सर्वाइवर हूं और इस संस्था को जीवित रखने के लिए मैंने बहुत संघर्ष किया है।”

इमेज मित्तल ने आगे लिखा, “मैं इस मुद्दे के चारों ओर की उत्सुकता को पूरी तरह से समझती हूं, एक छोटी सी प्रविष्टि आपको चोट नहीं पहुंचाएगी, क्या आपको नहीं लगता? यह शख्स तो यहां तक ​​कह चुका है कि “सेलेब्स इस तरह के कमेंट्स के आदी होते हैं”। खैर, सेलेब्स भी इंसान हैं। उनमें से आम इंसान की तरह इमोशन होते हैं। उन्हें सामान्य इंसानों की तरह कैंसर हो जाता है। वे सामान्य मनुष्य की तरह जीवित रहते हैं या दम तोड़ देते हैं। नहीं! जो शारीरिक और साथ ही जीवन भर चलने वाले जुड़े हुए से जुड़े हुए हैं, वे इस तरह की टिप्पणी की “आदत” नहीं है।”


छवि ने बताया अपने ब्रेस्ट कैंसर का प्रॉसीजर

इमेज मित्तल ने उपयोगकर्ता के सवाल का जवाब देते हुए कहा, “महिलाओं की समझ के लिए बताएं कि सर्जरी कैसे काम करती है। लैम्पेक्टोमी, जो मैंने किया था। इसमें सिर्फ किंक को हटा दिया जाता है। मास्टोमी में कैंसर के फैलाव के कारण ब्रेस्ट को हटा दिया जाता है। मैं आपको समय-समय पर जानकारी देता रहता हूं। ब्रेस्ट को पहली बार दिखने के लिए मैंने रिकंस्ट्रक्शन सर्जरी भी करवाई थी। यह मेरी लैटिसिमस डॉर्सी मांसपेशी के एक टुकड़े को काटकर एक मिनी फ्लैप बना रहा था। मास्टेक टॉमी के मामले में सिलिकॉन का विकल्प चुना जा सकता है। मुझे सिलिकोसिस की जरूरत नहीं थी।”

छवि ने कहा, “मैं बताती हूं कि कैंसर से बचना मेरे लिए जीवन बदलने वाला अनुभव है। यह एक नया जीवन है, जिसे मैं जी रहा हूं और यह पहले वाले जैसा नहीं है। 7 महीने हो गए हैं और मैं अभी भी भावुक होकर रोने लगता हूं। इसमें मेरी गलती नहीं है, लेकिन ये रोज होता है। मैं इससे बच गया। ऐसे शरीर का मालकिन होना सम्मान की बात है।”

यह भी पढ़ें- TMKOC: न्यू ईयर पर हद से ज्यादा ग्लैमरस हुए ‘सोनू’, ‘बापू जी’ ने भी नए लुक से फैंस को किया हैरान



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *