न्यूनतम EPS 95 पेंशन बढ़ोतरी 7500+DA के लिए मा. भूपेंदर यादव, केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्री के साथ बैठक हुई संपन्न, 67 लाख पेंशनधारकों के लिए जरुरी जानकारी

Uncategorized

दिनांक -30 2022 को औरंगाबाद  (महाराष्ट्र) में मा. भूपेंदर यादव, केंद्रीय श्रम और रोजगार मंत्री भारत सरकार और मा. श्री भागवत कराड केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री से NAC औरंगाबाद के प्रतिनिधि मंडल ने औरंगाबाद में मुलाकात की।

औरंगाबाद शहर व आसपास के हजारों EPS 95 पेंशनर्स ने कार्यक्रम स्थल पर प्रत्यक्ष उपस्थित रहकर एकता व अनुशासन का दिया परिचय।

कार्यक्रम स्थल पर ही EPS पेंशनर्स ने सभा की। जोरदार प्रदर्शन करते हुए जन आक्रोश व भावनाओं को माननीय मंत्री महोदयों तक प्रभावी ढंग से पहुंचाया। कुछ देर के बाद ही मा। मंत्री महोदय ने NAC के प्रतिनिधि मंडल को चर्चा हेतु किया आमंत्रित।

श्री कमलाकर पांगरकर, कार्याध्यक्ष महाराष्ट्र के नेत्तृत्त्व में श्री शशिकांत वाडगांवकर जिला अध्यक्ष औरंगाबाद, श्रीमती जयश्री किवलेकर ,श्रीमती कविता भालेराव, श्रीमती ज्योती शर्मा, श्री बांबर्डे महाराज , श्री संजय पाटिल, श्री सोपान बांगर,श्री हारून भाई पठान ,श्री अवसरमोल , श्री अरुण कुलकर्णी, श्री सिंघलकर, श्री भाले, श्री पोपलघट, श्रीमती निर्मला बडवे, श्रीमती मंगला तांबोळी, श्रीमती प्रतिभा साखरे, श्रीमती आशा काळे व श्री रमेश तारापूरे आदि पदाधिकारियों ने माननीय मंत्री महोदय को निवेदन सादर करते हुए अपना पक्ष प्रभावी ढंग से रखते हुए कहा कि – हमारे पेंशनर्स दिन प्रतिदिन मरते जा रहे हैं इसलिए अब चर्चा का समय नहीं है, अब तो आप हमारी मांगे मंजूर कीजिए।

मा. श्रममंत्री महोदय ने कहा कि- इस विषय पर हम आपके NAC अध्यक्ष व केंद्रीय नेताओं से विस्तार से चर्चा कर उन्हे बता चुके हैं कि हम आपका काम कर रहे हैं, जल्दी कर रहे हैं और प्रक्रिया जारी हैं। इसी बात को मा. वित्त राज्य मंत्री जी ने भी दोहराया माननीय श्रममंत्री के उपरोक्त कथन से प्रतिनिधि मंडल का समाधान नहीं हुआ।

प्रतिनिधि मंडल चाहता था कि माननीय मंत्री महोदय एक समय सीमा बताएं। मा. श्रम मंत्री जी से मिलने के बाद NAC नेताओं ने सभा को सम्बोधित किया और चर्चा का वृत्तांत सभी पेंशनर्स को बताया तो उपस्थित पेंशनर्स में जन आक्रोश दिखाई दिया।

कुछ देर पश्चात दोनों मंत्री महोदय जब सभा गृह से जाने लगे तब पेंशनर्स के बीच में आए और पेंशनर्स को फिर से आश्वासित किया।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *