सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने EPF को लेकर एक बड़ा आदेश सुनाया

0 0
Read Time:1 Minute, 40 Second

अगर आप संगठित क्षेत्र में नौकरीपेशा हैं और आपके पास एंप्लाई प्रोविडेंट फंड यानी ईपीएफ अकाउंट (EPF Account) है तो आपके लिए खुशखबरी है। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने ईपीएफ को लेकर एक बड़ा आदेश सुनाया है। शीर्ष अदालत ने यह व्यवस्था दी है कि ईपीएफ कंट्रीब्यूशन (EPF Contribution) में देरी के लिए होने वाले नुकसान की भरपाई नियोक्ता (Employers) यानी कंपनी को करनी होगी।

6 करोड़ से ज्यादा लोगों पर असर

सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक हाईकोर्ट के फैसले को भी सही ठहराया है। कोर्ट के इस फैसले का असर रिटायरमेंट फंड बॉडी एंप्लाई प्रोविडेंट फंड ऑर्गेनाइजेशन यानी ईपीएफओ (EPFO) के 6 करोड़ से ज्यादा सब्सक्राइबर्स पर असर पड़ने वाला है। इस फैसले के बाद इस दायरे में आने वाले कर्मचारी अब मुवाअजे के लिए क्लेम कर पाएंगे।

के मुताबिक, जस्टिस अजय रस्तोगी और जस्टिस अभय एस ओका की बेंच ने कहा कि कर्मचारी भविष्य निधि एवं विविध प्रावधान अधिनियम किसी ऐसे प्रतिष्ठान में काम करने वाले कर्मचारियों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करता है, जहां 20 या अधिक लोग काम करते हैं।


 


Source link
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.