25 जुलाई 2022 को EPS 95 पेंशन 7500 बढ़ोतरी के लिए राष्ट्र व्यापी- दिल्ली आंदोलन के पहले सभा सफलता पूर्वक संपन्न

0 0
Read Time:3 Minute, 5 Second

EPS 95 पेंशनर्स बचाओ अभियान अंतर्गत दिनांक 25 जुलाई 2022 राष्ट्र व्यापी- दिल्ली आंदोलन के पहले, NAC चीफ कमांडर अशोक राऊत जी व राष्ट्रीय महासचिव के साथ सेंट्रल टीम का अलग अलग का 4 थे चरण का दौरा चल रहा है।

इसी 4 थे चरण का दौरे के मद्दे नजर NAC कानपुर मंडल अंतर्गत झांसी (यूपी) की ओर से आयोजित सभा 25 जुलाई 2022 को सफलता पूर्वक संपन्न हुई।

इस सभा में NAC सेन्ट्रल टीम की उपस्थिति रही। बरसात के बाद भी जालौन (उरई), हमीरपुर जिलों के प्रतिनिधियों सहित झांसी के विभन्न विभागों के वरिष्ठ नेताओं की विशेष उपस्थिति भी रही। उपस्थित नेताओं का आयोजकों की ओर से सम्मान किया गया।

प्रमुख वक्ता श्री वीरेन्द्र सिंह राजावत राष्ट्रीय महासचिव ने अपने मुख्य भाषण में स्पष्ट किया कि वह NAC चीफ कमांडर अशोक राऊत जी के नेतृत्व में लाखों पेंशनर्स के उज्जवल भविष्य के संघर्षरत संगठन NAC के एक संदेश वाहक के रूप में यहां आए है। उन्होंने आज तक किए गए संगठन द्वारा प्रयत्न,आज की संगठन की शक्ति, पेंशन वृद्धि के संदर्भ में आज की परिस्थितिया, दिल्ली आंदोलन की उपयोगिता व  आवश्यकता पर प्रकाश डाला तथा दिल्ली आंदोलन में सभी की उपस्थिति व सहयोग की भावनात्मक अपील की।

दिल्ली चलो -दिल्ली चलो के गूंजे नारे।

श्री जे एस परिहार प्रांतीय समन्वयक, श्री पी सी मिश्रा प्रांतीय उपाध्यक्ष झांसी, श्री राजीव खन्ना प्रांतीय सचिब (पश्चिम क्षेत्र) श्री के वी कृष्णा उपाध्यक्ष (पच्छिम क्षेत्र) आदि ने किया सभा को संबोधित व सभी वक्ताओं ने EPFO के प्रति रोष जताया व राष्ट्र व्यापी दिल्ली आंदोलन में पूर्ण रूपेण सहयोग व सहभाग के संकल्प को दोहराते हुए सभी से अपने हक के लिए दिल्ली आंदोलन को सफल बनाने की जोरदार अपील की।

सभा में वरिष्ठ NAC नेता श्री एस के अवस्थी, श्री एस के जैन,आदि  अन्य NAC  नेताओं की उपस्थिति रही। इस सभा का शानदार सूत्र संचालन श्री पुत्तू सिंह कुशवाहा ने किया। श्री राजीव खन्ना ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया।


 


Source link
Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.