EPFO के पास 3930 करोड़ रुपया है बेकार पड़ा हुआ, इनैक्टिव खातों में पड़ा हुआ 3930 करोड़ रुपया क्या पेंशन बढोतरी में हो सकता है मददगार

Uncategorized

सरकार ने संसद को बताया कि कर्मचारी भविष्य निधि में निष्क्रिय खातों में फूल 3930.85 करोड़ जमा है। श्रम और रोजगार मंत्री भूपेंद्र यादव ने सुशील कुमार मोदी के एक सवाल के लिखित जवाब में यह जानकारी दी है। उन्होंने कहा कि कर्मचारी भविष्य निधि में बिना दाओं वाली कोई जमा राशि नहीं है। कर्मचारी भविष्य निधि योजना 1952 के अनुसार कुछ खातों को निष्क्रिय खातों के रूप में वर्गीकृत किया गया है। माननीय श्रम मंत्री भूपेंद्र यादव जी ने कहा ऐसे सभी निष्क्रिय खातों के निश्चित रूप से दावेदार है। 31 मार्च 2021 की स्थिति के अनुसार ऐसे निष्क्रिय खातों में कुल जमा धनराशि 3930.85 करोड़ है।

आगे उन्होंने संसद ने बताया कि कर्मचारी भविष्य निधि संगठन से अलग-अलग श्रेणियों में रजिस्टर कंपनियों की कुल संख्या 1862128 है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि 1 अक्तूबर 2020 के बाद इन प्रतिष्ठानों द्वारा 14482359 नए कर्मचारियों की भर्ती की गई है। उन्होंने बताया कि पंजीकृत प्रकाश हटाने की सबसे ज्यादा संख्या 297684 महाराष्ट्र में है जबकि दिल्ली में 114151, गुजरात में 137686, तमिलनाडु में 167390 और उत्तर प्रदेश में 147390 प्रतिष्ठान ईपीएफओ से पंजीकृत है। अगर आप नौकरी करते हैं और कंपनी ईपीएफओ एक्ट के तहत रजिस्टर है तो आपकी सैलरी से हर महीने कर्मचारी भविष्य निधि खाते में अंशदान जमा किया जाता है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *